सूचना और प्रसारण मंत्रालय ऑनलाइन खेल विज्ञापन पर दिशानिर्देश जारी, जानिए क्या मिले निर्देश

सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने शुक्रवार को सभी निजी उपग्रह टीवी चैनलों में ऑनलाइन गेमिंग और फंतासी खेलों के विज्ञापनों पर एक सलाह जारी की। सलाहकार ने विज्ञापनदाताओं को ऐसे खेलों में वित्तीय जोखिम वाले विज्ञापनों को शामिल करने का निर्देश दिया। यही नहीं, 18 साल से कम उम्र के लोग इन खेलों में हिस्सा
 
सूचना और प्रसारण मंत्रालय ऑनलाइन खेल विज्ञापन पर दिशानिर्देश जारी, जानिए क्या मिले निर्देश

सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने शुक्रवार को सभी निजी उपग्रह टीवी चैनलों में ऑनलाइन गेमिंग और फंतासी खेलों के विज्ञापनों पर एक सलाह जारी की। सलाहकार ने विज्ञापनदाताओं को ऐसे खेलों में वित्तीय जोखिम वाले विज्ञापनों को शामिल करने का निर्देश दिया। यही नहीं, 18 साल से कम उम्र के लोग इन खेलों में हिस्सा नहीं लेंगे। सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देश 15 दिसंबर से लागू होंगे।

केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि एएससीआई दिशा-निर्देशों के अनुसार 18 साल के कम उम्र के किसी भी व्यक्ति को धन कमाने के लिए ऑनलाइन गेम खेलते हुए या यह दूसरों को इस तरह का गेम खेल सकने का सुझाव देते हुए नहीं दिखाया जाये। परामर्श के अनुसार विज्ञापनों के द्वारा ऑनलाइन गेमिंग को आय के अवसर या वैकल्पिक रोजगार विकल्प के रूप में प्रस्तुत नहीं किया जाना चाहिए।

मंत्रालय द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों के अनुसार, खेल के लिए जारी किए गए विज्ञापन में विज्ञापन में उल्लेख किया जाना चाहिए कि धन खोने का जोखिम है। “खेल पैसे खोने का जोखिम चलाता है और नशे की लत हो सकता है। इसलिए इसे अपनी रिस्क पर खेलें जो खेल में भाग लेता है।”

मंत्रालय ने यह भी कहा कि इन खेलों के लिए या DISCOM के लिए जारी किए गए विज्ञापनों के प्रदर्शन के लिए कम से कम 20 प्रतिशत स्थान प्रदान किया जाना चाहिए ताकि दर्शक आसानी से खेल से संबंधित खतरों के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकें।

From Around the web