कैसा होने वाला है आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का भविष्य भारत में

1. स्वास्थ्य देखभाल उद्योग में कृत्रिम बुद्धिमत्ता SBI बैंक में निकली 10th-12th के लिए क्लर्क भर्ती- लास्ट डेट : 26 जनवरी 2020 दिल्ली पुलिस नौकरियां 2019: 649 हेड कांस्टेबल पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन करें AIIMS भोपाल में निकली नॉन फैकेल्टी ग्रुप A के लिए भर्तियाँ – अभी देखें सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर
 

1. स्वास्थ्य देखभाल उद्योग में कृत्रिम बुद्धिमत्ता

कैसा होने वाला है आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का भविष्य भारत में

SBI बैंक में निकली 10th-12th के लिए क्लर्क भर्ती- लास्ट डेट : 26 जनवरी 2020

दिल्ली पुलिस नौकरियां 2019: 649 हेड कांस्टेबल पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन करें

AIIMS भोपाल में निकली नॉन फैकेल्टी ग्रुप A के लिए भर्तियाँ – अभी देखें 

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

भारत एक विशाल देश है और प्राथमिक स्वास्थ्य सुविधाएं पर्याप्त रूप से सभी स्थानों पर नहीं पहुंची हैं। प्रति हजार नागरिकों पर बुनियादी ढाँचे और कम डॉक्टरों के साथ, सरकार के लिए अपने लोगों को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवा का वादा करना चुनौतीपूर्ण है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस भारत को भविष्य में बेहतर स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने में मदद करने जा रहा है। एआई प्रतिक्रियाशील देखभाल के बजाय निवारक चिकित्सा सुनिश्चित करने के लिए कैंसर जैसी घातक बीमारियों का पता लगाने में सहायता कर सकता है। सरकार निकट भविष्य में एआई को लागू करने की दिशा में काम करने जा रही है।

2. शिक्षा में कृत्रिम बुद्धिमत्ताकैसा होने वाला है आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का भविष्य भारत में

पूंजी और योग्य जनशक्ति 2 मुख्य स्तंभ हैं जो किसी भी उद्योग की स्थापना और विकास के लिए आवश्यक हैं। भारत अब आर्टिफिशियल इंटेलीजेंसी पर शिक्षा के स्तर को बढ़ा रहा है।

3. स्मार्ट इन्फ्रास्ट्रक्चर और मोबिलिटी में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस

शहरों की आबादी में वृद्धि ने भारत के लिए एक बड़ी चुनौती पेश की है। सरकार भारत के बड़े महानगर में गुणवत्ता के बुनियादी ढांचे और अच्छी सड़कों की पेशकश करने के लिए लड़ रही है। एआई भविष्य के शहरी क्षेत्रों में एक महत्वपूर्ण बदलाव ला सकता है।

From Around the web