कैसा रहा है अभी तक का कंप्यूटर का इतिहास जानिए कुछ अनोखी बातें

आज के समय में कंप्यूटर की उपयोगिता को कौन नहीं जानता कौन नहीं जानता के हर क्षेत्र में कंप्यूटर के बगैर कोई भी कार्य संभव नहीं है ऐसे में कंप्यूटर का इतिहास और उसकी जानकारी लेना बहुत जरूरी है कि कैसे यह हमारे जीवन पर अपना प्रभाव छोड़ रहा है कैसे यह हमारे जीवन के
 
कैसा रहा है अभी तक का कंप्यूटर का इतिहास जानिए कुछ अनोखी बातें

आज के समय में कंप्यूटर की उपयोगिता को कौन नहीं जानता कौन नहीं जानता के हर क्षेत्र में कंप्यूटर के बगैर कोई भी कार्य संभव नहीं है ऐसे में कंप्यूटर का इतिहास और उसकी जानकारी लेना बहुत जरूरी है कि कैसे यह हमारे जीवन पर अपना प्रभाव छोड़ रहा है कैसे यह हमारे जीवन के रोजमर्रा के कार्यो में हमारी मदद कर रहा है और ऐसा क्या है कंप्यूटर में जिसकी वजह से वह हमारे जीवन का एक अभिन्न अंग बन गया आईये जानते हैं|

कैसा रहा है अभी तक का कंप्यूटर का इतिहास जानिए कुछ अनोखी बातें

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

कंप्यूटर का नाम सुनते ही हमारे दिमाग में एक मशीन की छवि बनती है जिसमें डिस्प्ले मॉनिटर है कीबोर्ड है माउस है और एक सीपीयू है जी हां कंप्यूटर एक मशीन ही है जो कि हमारे लिए कैलकुलेशन करने का काम करती है लेकिन जब कंप्यूटर का आविष्कार हुआ था तब कंप्यूटर देखने में ऐसा नहीं था उसका स्‍वरूप कुछ अलग था, मानव के लिए गणना करना शुरु से ही कठिन रहा है मनुष्य बिना किसी मशीन के एक सीमित स्तर तक ही गणना या केलकुलेशन कर सकता है ज्यादा बडी कैलकुलेशन करने के लिए मनुष्य को मशीन पर ही निर्भर रहना पड़ता है इसी जरुरत को पूरा करने के लिए मनुष्य ने कंप्यूटर का निर्माण किया, यानी गणना करने के लिए।

अबेकस

लगभग 3000 वर्ष पूर्व अबेकस का निर्माण लगभग 3000 वर्ष पूर्व चीन के वैज्ञानिकों ने किया था। एक आयताकार फ्रेम में लोहे की छड़ोंं में लकडी की गोलियाँ लगी रहती थी जिनको ऊपर नीचे करके गणना या केलकुलेशन की जाती थी। यानी यह बिना बिजली के चलने वाला पहला कंप्यूटर था वास्तव में यह काम करने के लिए आपके हाथो पर ही निर्भर था। तो इसका अर्थ यह है जो भी मशीन गणना करने में आपकी मदद करती है वह एक कंप्‍यूटर होती है केवल आपके घर में रखा डिस्प्ले मॉनिटर, कीबोर्ड, माउस और सीपीयू से बनी मशीन कंप्‍यूटर नहीं होती है अब चलिये कंप्‍यूटर की परिभाषा को जान लेते हैं

कंप्यूटर शब्द की उत्पत्ति

कम्प्यूटर  शब्द की उत्पत्ति कंप्यूट (Comput) शब्द से हुई है जो कि एक लैटिन भाषा का शब्द जिसका अर्थ होता है गणना करना अब आप कहेंगे कि यह सब तो ठीक है लेकिन कंप्यूटर शब्द के लिए लैटिन भाषा की कंप्यूटर को ही क्यों इस्तेमाल किया गया तो इसके पीछे भी कारण है कंप्यूटर के जनक चार्ल्स बैबेज जिनका जन्म लंदन में हुआ था वहां की आधिकारिक भाषा अंग्रेजी है तो अंग्रेजी से ही कोई शब्द क्यों नहीं लिया गया इसकी वजह यह है कि जो अंग्रेजी भाषा है उसके तकनीकी शब्द खासतौर पर प्राचीन ग्रीक भाषा और लैटिन भाषा पर आधारित है इसलिए कंप्यूटर शब्द के लिए यानी एक ऐसी मशीन के लिए जो गणना करती है उसके लिए लैटिन भाषा के शब्द कंप्यूट (Comput) को लिया गया

कंप्यूटर की परिभाषा हिंदी मेंकैसा रहा है अभी तक का कंप्यूटर का इतिहास जानिए कुछ अनोखी बातें

तो आप समझ ही गए हैं कि कंप्यूटर शब्द की उत्पत्ति कंप्यूटर शब्द से हुई है जो कि कि लैटिन भाषा का शब्द है जिसका अर्थ होता है गणना करना या कैलकुलेशन करना और कंप्यूटर को बनाया भी कैलकुलेशन करने के लिए ही था जो तेजी से अर्थमैटिक ऑपरेशंस को अंजाम दे सके है इसीलिए इसे गणक या संगणक भी कहा जाता है, इसका अविष्‍कार Calculation करने के लिये हुआ था, पुराने समय में Computer का use केवल Calculation करने के लिये किया जाता था किन्‍तु आजकल इसका use डाक्‍यूमेन्‍ट बनाने, E-mail, listening and viewing audio and video, play games, database preparation के साथ-साथ और कई कामों में किया जा रहा है

कंप्‍यूटर को ठीक प्रकार से कार्य करने के लिये सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर दोनों की आवश्‍यकता होती है। अगर सीधी भाषा में कहा जाये तो यह दोनों एक दूसरे के पूरक हैं। बिना हार्डवेयर सॉफ्टवेयर बेकार है और बिना सॉफ्टवेयर हार्डवेयर बेकार है। मतलब कंप्‍यूटर सॉफ्टवेयर से हार्डवेयर कमांड दी जाती है किसी हार्डवेयर को कैसे कार्य करना है उसकी जानकारी सॉफ्टवेयर के अन्दर पहले से ही डाली गयी होती है। कंप्यूटर के सीपीयू से कई प्रकार के हार्डवेयर जुडे रहते हैं, इन सब के बीच तालमेल बनाकर कंप्यूटर को ठीक प्रकार से चलाने का काम करता है सिस्टम सॉफ्टवेयर यानि ऑपरेटिंग सिस्टम।

कम्प्यूटर के लाभ और हानिकैसा रहा है अभी तक का कंप्यूटर का इतिहास जानिए कुछ अनोखी बातें

कंप्‍यूटर (Computer) एक छोटी सी लेकिन पावरफुल मशीन, कई लोगों के लिये यह किसी जादू से कम नहीं, जो कई सारे काम एक साथ बिना थके कर सकती है, इसके कई लाभ (Labh) हैं लेकिन इससे होने वाले नुकसान (nuksan) को भी अनदेखा नहीं किया जा सकता है – computer advantages and disadvantages in hindi – कम्प्यूटर के लाभ और हानि

कम्प्यूटर के लाभ

आज हर जगह कंप्‍यूटर का उपयोग बडें पैमाने पर किया जा रहा है, इससे का सबसे बडा कारण यह है कि मनुष्‍य के मुकाबले बहुत तेजी सेे काम करता है, यह बहुत बडी गणना को कुछ सेकेण्‍ड में कर सकता हैै आज हर चीज कंप्‍यूटर पर उपलब्‍ध है, आप बहुत सारा डाटा कंप्‍यूूटर में स्‍टोर कर सकते हैं और उसे कभी भी उपयोग में ला सकते हैं और अगर आपके पास इंटरनेट की सुविधा भी है तो आप क्‍लाउड स्‍टोरेज का उपयोग कर इंटरनेट पर भी अपने डाटा काे सुरक्षित रख सकते हैं। आप कभी-भी और कहीं भी अपने दोस्‍तों के सम्‍पर्क में वीडियो कॉल, ईमेल, सोशल नेटवर्किंग जैसे सुविधाओं केे माध्‍यम सेे जुडें रह सकते हैं। आप इंटरनेट पर कोई भी जानकारी प्राप्‍त कर सकते हैं। बैंकिग जैसी सुविधाओं में कंंप्‍यूटर तकनीक का जबाब नहीं है, आप घर बैठे-बैठे अपने मोबाइल फोन से या कंंप्‍यूटर से किसी को भी रूपये ट्रांसफर कर सकते हैं।

आज मोबाइल रीचार्ज, बिजली का बिल से जमा करने से लेकर ऑनलाइन शॉपिग यहॉ तक कि हवाई जहाज तक कंप्‍यूटर द्वारा उडाये जा रहेे हैं वह भी बिना कोई गलती किये। शिक्षा और चिकित्‍सा के क्षेत्र में कंप्यूटर ने दुनियांं को बदल दिया है आप घर बैठे-बैठे ही बेस्‍ट टीचर्स/संस्‍थाओं से शिक्षा प्राप्‍त कर सकते हैं और चिकित्‍सा की बात करें तो दुनियॉ के बेहतरीन डाक्‍टर्स से इंटरनेट पर परामर्श ले सकते हैं और अब तो मैडीकल स्‍टोर जाने की भी जरूरत नहीं है आप घर बैठे ही दवाईयॉ भी आर्डर कर सकते हैं, चाहे वह आपके शहर में मिलती हों या नहीं।

कम्प्यूटर की हानिकैसा रहा है अभी तक का कंप्यूटर का इतिहास जानिए कुछ अनोखी बातें

जहॉ एक और कंंप्‍यूूटर लोगों को स्‍मार्ट बना रहा है वहीं दूसरी और इसका जरूरत से ज्‍यादा प्रयोग बीमार भी बना रहा है कंप्‍यूटर और मोबाइल का अधिक प्रयोग स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो रहा है मोबाइल और कंंप्‍यूटर स्‍क्रीन पर ज्‍यादा लगातार देखते रहने से सबसे ज्यादा नुकसान आंखों को होता है लोगों का मिलना जुलना बंद हो गया है, ज्‍यादा लोग किसी के घर जाकर मिलने से बेहतर उनसे सोशन नेटवर्किंग साइट जैसे फेसबुक और व्‍हाट्सएप चैट करना ज्‍यादा पंंसद करते हैं, यहॉ तक कि एक घर में रह रहे 4 व्‍यक्ति भी अपने-अपने मोबाइल फोन से ही चिपके रहते हैं। बडी-बडी कंंपनियों और फैट्रियों में कई-कई मजदूरों का काम कंप्‍यूटर और रोबोट करने लगे हैं, जिससे बेरोजगारी भी बढी है इंटरनेट बैंकिग का उपयोग सावधानी से न करने पर आपके पर्सनल डाटा चोरी रखने का खतरा रहता है, जिससे कई यूजर्स को आर्थिक नुकसान उठाना पडता है इसी प्रकार सोशन नेटवर्किंंग साइट पर भी सावधानी से काम न करने पर भी होता है इंटरनेट के माध्‍यम से ठगी बहुत बडे पैमाने पर बढ गयी है

शिक्षा के क्षेत्र में कंप्यूटर का योगदान

आज आप घर बैठे ही ऑनलाइन किसी भी विषय के बारे में जानकारी प्राप्‍त कर सकते हैं, जिससे वह बच्‍चे और विद्यार्थी जिसके शहर में वह कोर्स उपलब्‍ध नहीं हैं या जो बाहर जाकर पढाई नहीं कर सकते हैं वह भी शिक्षा प्राप्‍त कर सकते हैं Computer भंडारण और डेटा प्रबंधन के लिए सबसे बढ़िया साधन है। कंप्‍यूटर में आप अनेकों पुस्‍तकों को डिजिटल फार्मेट में अपने साथ रख सकते हैं और कभी पढ सकते हैं विद्यार्थी अपने लिये जरूरी नोट्स तैयार करने में माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस के टूल्‍स Microsoft Office Word, Excel, और PowerPoint की सहायता ले सकते हैं

शिक्षक भी विद्यार्थी को प्रभावी ढंग से किसी भी विषय को समझाने के लिये पॉवर पॉइंट प्रेजेंटेशन बनाकर उन्‍हें समझा सकते हैैंं, लेकिन इसके लिये प्रोजेक्टर, इंटरनेट आदि व्यावहारिक ज्ञान लेना आवश्‍यक होगा आप कभी-भी और कहीं भी अपने दोस्‍तों के सम्‍पर्क में वीडियो कॉल, ईमेल, सोशल नेटवर्किंग जैसे सुविधाओं केे माध्‍यम सेे जुडें रह सकते हैं और किसी भी विषय पर चर्चा कर सकते हैं आप इंटरनेट पर कोई भी जानकारी प्राप्‍त कर सकते हैं। कंप्यूटर शिक्षा का एक अच्छा स्रो त है। शिक्षा के क्षेत्र में कंप्यूटर का बड़ा योगदान है। आज हर स्कूल व् कॉलेज में कंप्यूटर लैब है। कम्यूटर के माध्यम से अध्यापकों को भी छात्रों को पढने में सहायता मिलती है।कैसा रहा है अभी तक का कंप्यूटर का इतिहास जानिए कुछ अनोखी बातें

कंप्यूटर उपसंहार

कंप्यूटर आज के युग में बहुत महत्वपूर्ण योगदान दे रहा है और ये हमारे रोजमर्रा के कार्यों को हमारी मदद भी कर रहा हम तेजी से बहुत सारे कामों को पूरा कर पाते हैं और बहुत बड़ी खोजें में कंप्यूटर की वजह से हो रही हैं आने वाली युग में कंप्यूटर में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सिस्टम भी आने वाला है जिससे यह खुद की एक कृत्रिम सोच भी विकसित करेगा लेकिन फिर भी कंप्यूटर एक मशीन ही माना जाएगा जिस का आविष्कार मनुष्य ने किया है अपने कार्यों को सरल बनाने की और मनुष्य का एक स्तर ही तक कंप्यूटर पर निर्भर रहना ही सही है

From Around the web