मिल सकता है Jio की तरफ से पहली 5G सर्विस, Jio जल्दी करने वाली है 5G ट्रायल रन

रिलायंस Jio ने अपने 5 जी प्रौद्योगिकी परीक्षण के लिए केंद्र सरकार से मंजूरी मांगी है। ऐसा करने वाली यह देश की पहली कंपनी बन गई। सूत्रों के मुताबिक, अगर 5G टेक्नोलॉजी का ट्रायल रन सफल रहा, तो जियो 5G की टेक्नोलॉजी टेक्नोलॉजी के डिजाइन को थर्ड-पार्टी निर्माताओं को आउटसोर्स किया जा सकता है। सरकारी
 
मिल सकता है Jio की तरफ से पहली 5G सर्विस, Jio जल्दी करने वाली है 5G ट्रायल रन

रिलायंस Jio ने अपने 5 जी प्रौद्योगिकी परीक्षण के लिए केंद्र सरकार से मंजूरी मांगी है। ऐसा करने वाली यह देश की पहली कंपनी बन गई। सूत्रों के मुताबिक, अगर 5G टेक्नोलॉजी का ट्रायल रन सफल रहा, तो जियो 5G की टेक्नोलॉजी टेक्नोलॉजी के डिजाइन को थर्ड-पार्टी निर्माताओं को आउटसोर्स किया जा सकता है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

मिल सकता है Jio की तरफ से पहली 5G सर्विस, Jio जल्दी करने वाली है 5G ट्रायल रन

कैसे करेगी Jio 5G ट्रायल रन

Jio ने चीनी दिग्गज Huawei Technologies, Ericsson और Nokia के साथ अपने 5G ट्रायल रन को तेज करने का फैसला किया है।

कंपनी खुद को सैमसंग तक सीमित नहीं रखती है।

शुरुआत में, सैमसंग Jio का मुख्य उपकरण आपूर्तिकर्ता था।

रिलायंस लंबे समय से अपने दूरसंचार अनुसंधान और विकास डिजाइन और प्रौद्योगिकी पर काम कर रहा है।

रिलायंस ने 5 जी तकनीक और एलओटी विकसित करने के लिए अमेरिकी कंपनी रेडिक्स को 6.7 मिलियन डॉलर में खरीदा। हाल तक तक, 5 जी तकनीक का यूरोपीय और चीनी कंपनियों में वर्चस्व था, रिलायंस ने तेजी से अपना स्थान बढ़ाया। जियो, एयरटेल के अलावा, वोडाफोन आइडिया चीनी कंपनियों एरिक्सन, नोकिया और हुआवेई के साथ मिलकर 5G तकनीक पर काम कर रही है।

दूरसंचार उपकरण डिजाइन और विनिर्माण के घरेलू विनिर्माण पर 2018 से सरकार की ओर से जोर दिया गया है।मिल सकता है Jio की तरफ से पहली 5G सर्विस, Jio जल्दी करने वाली है 5G ट्रायल रन

ट्राई ने स्थानीय विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिए कई प्रस्ताव पारित किए हैं।

विशेषज्ञों के अनुसार, Jio ने चीनी कंपनियों के साथ ट्रायल रन की अनुमति मांगी है।

From Around the web