6G Network Test : अब 5G से 50 गुना तेज; भारत में जल्द ही 6जी नेटवर्क की टेस्टिंग

 देश इस समय 5G को लेकर उथल-पुथल में है। कई लोग इसका विरोध कर रहे हैं। लेकिन अब 6G को लेकर जानकारी सामने आई है. सरकार ने देश में मोबाइल 6जी नेटवर्क की टेस्टिंग की तैयारी शुरू कर दी है। दूरसंचार विभाग ने इसके लिए एक सरकारी दूरसंचार अनुसंधान कंपनी C-DoT (C-DoT) की स्थापना की

 

Sabkuchgyan Team, 12 अक्टूबर 2021:- देश इस समय 5G को लेकर उथल-पुथल में है। कई लोग इसका विरोध कर रहे हैं। लेकिन अब 6G को लेकर जानकारी सामने आई है. सरकार ने देश में मोबाइल 6जी नेटवर्क की टेस्टिंग की तैयारी शुरू कर दी है। दूरसंचार विभाग ने इसके लिए एक सरकारी दूरसंचार अनुसंधान कंपनी C-DoT (C-DoT) की स्थापना की (6G Network Test)

इस काम को समय पर पूरा करना जरूरी है, ताकि वैश्विक बाजार 6जी नेटवर्क के मामले में बड़ी कंपनियों को टक्कर दे सके। यदि काम देर से शुरू होता है तो भारत तकनीकी प्रतिस्पर्धा से छूट सकता है।

अन्य कंपनियां लंबे समय से 6G तकनीक पर काम कर रही हैं

सैमसंग, हवाई, एलजी और अन्य जैसी दुनिया की कई कंपनियां लंबे समय से 6G तकनीक पर काम कर रही हैं। माना जा रहा है कि 6जी तकनीक 5जी तकनीक से 50 गुना तेज होगी। यह होगी इंटरनेट की स्पीड

एक अनुमान के मुताबिक 2028-30 तक दुनिया में 6जी तकनीक के लॉन्च होने की उम्मीद है। भारत समेत कई देशों में 5जी की टेस्टिंग भी चल रही है। भारत में अभी बड़े पैमाने पर लॉन्च किए जाने बाकी हैं। लेकिन दूरसंचार विभाग ने 6जी पर एक साथ काम शुरू करने का निर्देश दिया है, ताकि अंतिम दौर में स्थिति पीछे न रहे.

6G Network Test Now 50 times faster than 5G Testing of 6G network in India soon

5G . की गति से 10 गुना अधिक

सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ टेलीमैटिक्स (सी-डॉट) ने कहा कि दूरसंचार सचिव ने जोर देकर कहा कि सी-डॉट को 6जी के लिए उभरती हुई तकनीक और बाजार को देखना होगा।

सचिव ने कहा कि भविष्य की तकनीक को ध्यान में रखते हुए 6जी पर काम शुरू किया जाए ताकि यह वैश्विक बाजार की बाकी कंपनियों से मुकाबला कर सके।

दूरसंचार विभाग के मुताबिक, ग्राहक अब 4जी के मुकाबले 5जी में 10 गुना ज्यादा डाउनलोड स्पीड पा सकेंगे। साथ ही 5जी की स्पेक्ट्रम क्षमता 4जी से 3 गुना ज्यादा है।

इस बीच, देश के दूरसंचार सेवा प्रदाताओं (दूरसंचार सेवा प्रदाताओं) ने 5G पर मूल उपकरण निर्माताओं और प्रौद्योगिकी प्रदाताओं (एरिक्सन, नोकिया, सैमसंग और सी-डॉट) के साथ भागीदारी की है। वहीं, रिलायंस जियो इंफोकॉम लिमिटेड अपने द्वारा विकसित की गई तकनीक के साथ परीक्षणों का परीक्षण करेगी।

Reliance Industries Limited की 44वीं वार्षिक आम बैठक में 5G नेटवर्क को लेकर बड़ा ऐलान किया गया है। कंपनी के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने वर्चुअल कॉन्फ्रेंस के जरिए यह बात कही। पहले खबर आई थी कि कंपनी ने 5G टेस्ट में 1Gbps स्पीड हासिल कर ली है। कंपनी ने इससे पहले एक बयान जारी कर कहा था कि उसने 5जी नेटवर्क से जुड़ी सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं।

From Around the web