जल्दी ही Jio को याद आने वाली है नानी- दूसरी कंपनियों की तरह रोएगी खून के आंसू

जिस तरह जियो ने सभी टेलीकॉम कंपनियों की हालत पतली कर रखी है अब जल्द ही वह दिन आने वाला है जब मुकेश अंबानी की टेलीकॉम कंपनी रिलायंस जियो भी दूसरी टेलीकॉम कंपनियों की तरह ही खून के आसूं रोएगी। मोदी सरकार के संचार, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि
 
जल्दी ही Jio को याद आने वाली है नानी- दूसरी कंपनियों की तरह रोएगी खून के आंसू

जिस तरह जियो ने सभी टेलीकॉम कंपनियों की हालत पतली कर रखी है अब जल्‍द ही वह दिन आने वाला है जब मुकेश अंबानी की टेलीकॉम कंपनी रिलायंस जियो भी दूसरी टेलीकॉम कंपनियों की तरह ही खून के आसूं रोएगी। मोदी सरकार के संचार, इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि उनका मिशन सार्वजनिक क्षेत्र की टेलीकॉम कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) को देश की टॉप कंपनियों में शामिल करने का है।

SBI बैंक में निकली 10th-12th के लिए क्लर्क भर्ती- लास्ट डेट : 26 जनवरी 2020

दिल्ली पुलिस नौकरियां 2019: 649 हेड कांस्टेबल पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन करें

AIIMS भोपाल में निकली नॉन फैकेल्टी ग्रुप A के लिए भर्तियाँ – अभी देखें 

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

जल्दी ही Jio को याद आने वाली है नानी- दूसरी कंपनियों की तरह रोएगी खून के आंसू

प्रसाद ने कहा कि बीएसएनएल देश की रणनीतिक संपत्ति है। उन्‍होंने बताया कि आपदा और संकट की घड़ी में हमेशा बीएसएनएल ने देश के लोगों की मदद की है। उन्‍होंने कहा कि जब नेपाल में भूकंप आया था और भारतीय भटक रहे थे, तब मुफ्त सेवा बीएसएनएल ने दी थी।

प्रसाद ने चेन्‍नई से अंडमान निकोबार द्वीप समूह तम सबमरीन ऑप्टिकल फाइबर लिंक के लिए केबल बिछाने के कार्य का उद्घाटन करने के बाद कहा कि इस परियोजना की लागत 1224 करोड़ रुपए है। बीएसएनएल इस परियोजना का क्रियान्‍वयन कर रही है।

जल्दी ही Jio को याद आने वाली है नानी- दूसरी कंपनियों की तरह रोएगी खून के आंसू

प्रसाद ने कहा कि ओडिशा में चक्रवात और कश्‍मीर में बाढ़ में भी बीएसएनएल मददगार बनकर सामने आई थी। उन्‍होंने कहा कि बीएसएनएल सिर्फ मोबाइल कंपनी या दूरसंचार कंपनी नहीं है। यह देश की रणनीतिक संपत्ति है।

जल्दी ही Jio को याद आने वाली है नानी- दूसरी कंपनियों की तरह रोएगी खून के आंसू

प्रसाद ने कहा कि उनका मिशन बीएसएनएल को देश की शीर्ष कंपनियों में शामिल करने का है। उन्‍होंने कहा कि 2014 में जब मैं संचार मंत्री बना, मेरी प्राथमिकता बीएसएनएल को परिचालन लाभ में लाने की थी। मैं ऐसा कर सका। उन्‍होंने कहा कि अब मेरा मिशन बीएसएनएल को देश की शीर्ष कंपनियों में लाने का है। आप सभी को इसके लिए मेरे साथ मिलकर काम करना होगा।

From Around the web