चाणक्य नीति- इन लोगों की कभी भी मदद नहीं करनी चाहिए

नीति एवं शास्त्रों के कुशल पंडित आचार्य चाणक्य व्यक्ति को बारीकी से परखने की शक्ति रखते थे उनकी नीतियों के बल से ही भारत सोने की चिड़िया के नाम से पहचाना जाने लगा था।एक सामान्य पंडित होने के बावजूद महाराजा चन्द्रगुप्त का संपूर्ण शासन कौटिल्य ही संभालते थे उनके द्वारा बताई गयी नीतियाँ मनुष्य को
 
चाणक्य नीति- इन लोगों की कभी भी मदद नहीं करनी चाहिए

नीति एवं शास्त्रों के कुशल पंडित आचार्य चाणक्य व्यक्ति को बारीकी से परखने की शक्ति रखते थे उनकी नीतियों के बल से ही भारत सोने की चिड़िया के नाम से पहचाना जाने लगा था।एक सामान्य पंडित होने के बावजूद महाराजा चन्द्रगुप्त का संपूर्ण शासन कौटिल्य ही संभालते थे उनके द्वारा बताई गयी नीतियाँ मनुष्य को जीवन ही सही राह दिखाती है।यहां दिए गए गुप्त रखने योग्य बात यह है की यदि जीवन में कभी भी किसी नीच व्यक्ति ने हमारा अपमान किया हो तो वह घटना भी किसी को बतानी नहीं चाहिए।

ऐसी घटनाओं की जानकारी अन्य लोगों को मालूम होगी तो वे भी हमारा मजाक बनाएंगे और हमारी प्रतिष्ठा में कमी आएगी।दुख की बातें किसी पर जाहिर नहीं करनी चाहिए। यदि हम मन का संताप दूसरों पर जाहिर करेंगे तो लोग उसका मजाक बना सकते हैं, क्योंकि समाज में ऐसे लोग काफी हैं, जो दूसरों के दुखों का मजाक बनाते हैं। ऐसा होने पर दुख और बढ़ जाता है।

  1. चाणक्य के अनुसार जो व्यक्ति आपके धन का प्रयोग मदिरा या विष बनाने में करें तो उन्हें कभी ऋण नहीं देना चाहिए क्योंकि यह देश को तबाह कर देता है।
  2. जो व्यक्ति अधर्म के कार्यों में रत रहता है जिनकी सेवा करना महा पाप का कारण है।

  3. जो व्यक्ति जानवरों को हानि पहुँचाता है जो महिलाओं का सम्मान नहीं करता उन्हें धन देने से अप यश मिलता है इसलिए ऐसे लोगों की कभी मदद नहीं करनी चाहिए।

From Around the web