एसिडिटी के 10 आयुर्वेदिक उपचार

एसिडिटी एक ऐसी बीमारी है जो अधिकांश व्यक्ति या महिला को होती है. क्यूंकि आजकल हमारी दिनचर्या कुछ ऐसी हो गयी है कि दिनभर बैठना कुछ exercise न करना. जिसकी वजह से हम एसिडिटी शिकार हो जाते हैं. अगर हमें इस बीमारी से बचना है तो नीचे दिए गए उपाय अपनाए और स्वस्थ्य रहे. 1-विटामिन बी
 
एसिडिटी के 10 आयुर्वेदिक उपचार

एसिडिटी एक ऐसी बीमारी है जो अधिकांश व्यक्ति या महिला को होती है. क्यूंकि आजकल हमारी दिनचर्या कुछ ऐसी हो गयी है कि दिनभर बैठना कुछ exercise न करना. जिसकी वजह से हम एसिडिटी  शिकार हो जाते हैं. अगर हमें इस बीमारी से बचना है तो नीचे दिए गए उपाय अपनाए और स्वस्थ्य रहे.

1-विटामिन बी और ई युक्त सब्जियों का अधिक सेवन करें।

2-व्यायाम और शारीरिक गतिविधियाँ करते रहें।

3-खाना खाने के बाद किसी भी तरह के पेय का सेवन ना करें।

4-बादाम का सेवन आपके सीने की जलन कम करने में मदद करता है।

5-खीरा, ककड़ी और तरबूज का अधिक सेवन करें।

6-पानी में नींबू मिलाकर पियें, इससे भी सीने की जलन कम होती है।

7-नियमित रूप से पुदीने के रस का सेवन करें ।

8-तुलसी के पत्ते एसिडिटी और मतली से काफी हद तक राहत दिलाते हैं।

9-नारियल पानी का सेवन अधिक करें।

10- खाना खाने के बाद कुछ देर वज्रासन में जरूर बैठे …इससे खाना जल्दी पचता है |

From Around the web