बार बार हो रहे गर्भपात के आयुर्वेदिक नुस्खे जिन्हें आजमाने से गर्भपात को रोका जा सकता है

प्रेगनेंसी हर महिला के जीवन का सबसे अहम् और नाजुक दौर होता है l गर्भाशय संबंधी कोई परेशानी, पेट पर चोट लगना, कोई डर, मानसिक पीड़ा या फिर अवसाद आदि की वजह से कई बार गर्भपात हो जाता है l गर्भपात एक महिला को भावानात्म तौर पर तोड़कर रख देता है l इसलिए आज हम
 
बार बार हो रहे गर्भपात के आयुर्वेदिक नुस्खे जिन्हें आजमाने से गर्भपात को रोका जा सकता है

प्रेगनेंसी हर महिला के जीवन का सबसे अहम् और नाजुक दौर होता है l गर्भाशय संबंधी कोई परेशानी, पेट पर चोट लगना, कोई डर, मानसिक पीड़ा या फिर अवसाद आदि की वजह से कई बार गर्भपात हो जाता है l गर्भपात एक महिला को भावानात्म तौर पर तोड़कर रख देता है l इसलिए आज हम आपको कुछ आयुर्वेदिक नुस्खो के बारे में बता रहे है जिनकी मदद से आप अनचाहे गर्भपात से बच सकती है l आइए जानते है क्या है वे उपाय l

लोकी का जूस

जिन महिलाओ को बार बार रक्त स्त्राव की समस्या होती है, उन्हें लोकी का जूस या सब्जी का सेवन करना चाहिएl इस उपाय से रक्त स्त्राव से बचा जा सकता है l

सोंठ और मुलहठी

गर्भवती महिलाओ को रोज 250 ग्राम दूध में आधा चम्मच सोंठ, एक चम्मच मुलहटी मिलाकर पिने से भी गर्भपात का खतरा नहीं रहता है l

फिटकरी

जिन महिलाओ को रक्तस्त्राव ज्यादा होने के कारन गर्भपात होने का भय रहता है तो उन महिलाओ को एक चम्मच फिटकरी को कच्चे दूध के साथ पानी में मिलाकर लेनाचाहिए जिससे गर्भपात रुक जाता है l

गाजर का जूस

जिन महिलाओ का गर्भ नहीं ठहर रहा है वो महिलाए एक गिलास दूध में एक गाजर का रस मिलाकर उबाले जब दूध आधा रह जाए तब इसका सेवन करना चाहिए l ऐसा करने से गर्भपात से बचा जा सकता है l

अंकुरित भोजन करे

अंकुरित भोजन में विटामिन E प्रचुर मात्रा में उपलब्द होता है l गर्भवती महिलाओ को इसका अवश्य सेवन करना चाहिए l

गर्भवती महिलाओ को पाईनएप्पल, कच्चे अंडे, कच्चा मांस, अल्कोहल, जरुरत से ज्यादा चाय और कॉफ़ी, पपीता इन चीजो को नजर अंदाज करना चाहिए इनसे गर्भपात का खतरा बना रहता है l

From Around the web