करौंदा करता है मिर्गी की समस्या को दूर

मिर्गी एक ऐसी बीमारी है जिसमें रोगी को अकास्मिक दौड़े पड़ने लगते हैं।यह एक तंत्रिका तंत्र से जुड़ी बीमारी होती है।मिर्गी की बीमारी में आदमी अपना दिमागी संतुलन खो बैठता है। जिससे उसके हाथ पैर अकड़ने लगते हैं,बॉडी कापने लगता है।मिर्गी का कोई परमानेंट उपचार नहीं होता।आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे बताने जा
 
करौंदा करता है मिर्गी की समस्या को दूर

मिर्गी एक ऐसी बीमारी है जिसमें रोगी को अकास्मिक दौड़े पड़ने लगते हैं।यह एक तंत्रिका तंत्र से जुड़ी बीमारी होती है।मिर्गी की बीमारी में आदमी अपना दिमागी संतुलन खो बैठता है। जिससे उसके हाथ पैर अकड़ने लगते हैं,बॉडी कापने लगता है।मिर्गी का कोई परमानेंट उपचार नहीं होता।आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे बताने जा रहे हैं जिनके प्रयोग से आप मिर्गी की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

बहुत गुणकारी है मिर्गी  के लिए करौंदा

1.तुलसी में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं। जो दिमाग में फ्री रेडिकल्स को सही रखने में सहायक होते हैं।मिर्गी से छुटकारा पाने के लिए नियमित रूप से 20 तुलसी के पत्ते का सेवन करें।तुलसी के पत्ते का रस सेंधा नमक मिलाकर खाने से मिर्गी की समस्या दूर हो जाती है।

2.अगर आपको मिर्गी की समस्या है तो करौंदे के पत्ते की चटनी बनाकर खाएं।प्रतिदिन इसका सेवन करने से मिर्गी के दौरे आना बंद हो जाते हैं।

3.रोज एक चम्मच प्याज के रस का सेवन करने से भी मिर्गी की समस्या से छुटकारा मिलता है।

4.अगर किसी आदमी को मिर्गी के दौरे पड़ते हैं तो उसे प्रतिदिन शहतूत वो अंगूर का रस मिलाकर पिलाएं। ऐसा करने से मिर्गी की समस्या धीरे-धीरे ठीक होने लगती है।

From Around the web