सेम फली विटामिन का खजाना है पोष्टिक तत्वो से फला फुला, है स्वास्थ्य के लिये वरदान

सेम फली विटामिन का खजाना है पोष्टिक तत्वो से फला फुला है स्वास्थ्य के लिये वरदान से कम नही दिमाग के लिये एक जादू से कम नही सेम फली के सेवन से कोन से विटामिन प्राप्त होते है और कोन से तत्वो से यह पोषक बनी है सेम फली सेवन करणे से शरीर में जबरदस्त उर्जा
 

सेम फली विटामिन का खजाना है पोष्टिक तत्वो से फला फुला है स्वास्थ्य के लिये वरदान से कम नही दिमाग के लिये एक जादू से कम नही सेम फली के सेवन से कोन से विटामिन प्राप्त होते है और कोन से तत्वो से यह पोषक बनी है सेम फली सेवन करणे से शरीर में जबरदस्त उर्जा प्राप्त होती है उर्जा के लिये आयरन की जरुरत होती है और यह लोह सेम फली में ज्यादा है. लाल रक्त के कोशिकाओ को शरीर में ऑक्सिजन देने का काम करता है. इस के अलवा महिला वो में हिमोग्लोबिन की मात्रा पुरुषो के तुलना में कम होती है. सेम फली के सेवन से हिमोग्लोबिन बढता है और शरीर चुस्त और तंदुरुस्त बनता है.

सेम फली कैन्सर से लढणे के लिये कारगिर साबित हो सकती है एक अध्यन से पता चला की कैन्सर से पहिले होने वाले पोलीप्स को रोकने के लिये यह फली कारगिर साबित होती है. कैन्सर एडेनोमा और कोलोरेकटल जोखीम को कम करणे में मदत करता है. एंटीऑक्सीडेंट जैसे तत्व के कारण शरीर के कैन्सर को निष्क्रिय करणे का काम सेम की फली करता है.

मधुमेह को नियंत्रित करणे के लिये सेम फली फायदेमंद है सेम फली को ग्लाइसेमिक इंडेक्स फूड माना जाता है क्योकी इस में फायबर और कार्बोहाइड्रेट है यह सिस्टम आपके शरीर के धीरे धीरे और ग्लूकोज को नियंत्रित रखणे में कारगिर साबित हो सकता है. इसलिये सेम फली का सेवन बहुत जरुरी है.

From Around the web