मौत को छोड़कर कई बीमारियों का रामबाण इलाज है यह पौधा

मौत को छोड़कर कई बीमारियों का रामबाण इलाज है यह पौधा ये बात आयुर्वेद में कही जाती है, वैसे कांटेदार फल भटकटैया के नाम से जाना जाता है, यह एक छोटा कांटेदार पौधा होता है जिसके पत्तों पर कांटे लगे होते हैं, इसके फूल भी नीले रंग के होते हैं और इसके फल कच्चे हरे
 
मौत को छोड़कर कई बीमारियों का रामबाण इलाज है यह पौधा

मौत को छोड़कर कई बीमारियों का रामबाण इलाज है यह पौधा ये बात आयुर्वेद में कही जाती है, वैसे कांटेदार फल भटकटैया के नाम से जाना जाता है, यह एक छोटा कांटेदार पौधा होता है जिसके पत्तों पर कांटे लगे होते हैं, इसके फूल भी नीले रंग के होते हैं और इसके फल कच्चे हरे होते हैं, जबकि पकने के बाद पीले रंग के हो जाते हैं, इसके बीज भी छोटे और चिकने होते हैं, इस पेड़ की जड़ भी एक औषधि के रूप में प्रयोग की जाती है

नई सरकारी नौकरियों के लिए यहाँ पर देखें :

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें

मौत को छोड़कर कई बीमारियों का रामबाण इलाज है यह पौधा

भटकटैया का यह पौधा आपको पहाड़ी इलाके में या शुष्क स्थान पर आपको मिल जाएगा, यह पौधा अस्थमा रोगियों के लिए बेहद फायदेमंद है, यदि आप अस्थमा रोगी हैं और इससे छुटकारा पाना चाहते हैं तो 20 से 40 मिलीलीटर की मात्रा में भटकटैया की जड़ का काढ़ा इसके पत्तों का रस सुबह शाम रोगी को देवें, ऐसा करने से अस्थमा बहुत जल्द ठीक हो जाता है

मौत को छोड़कर कई बीमारियों का रामबाण इलाज है यह पौधा

अस्थमा रोगियों के लिए इसके पंचांग भी बहुत लाभकारी हैं, यदि आप इसके पंचांग को छाया में सुखाकर पीसकर चूर्ण बना लेते है तो उस पाउडर को शहद के साथ सेवन करे, ऐसा करने से अस्थमा में काफी जल्दी लाभ मिलता है

मौत को छोड़कर कई बीमारियों का रामबाण इलाज है यह पौधा

भटकटैया दर्द नाशक गुणों से भरा हुआ है, यदि जोड़ों में कहीं पर दर्द होता है तो आप भटकटैया की जड़ का काढा और पत्तों का रस सुबह-शाम सेवन करें, ऐसा करने से शरीर में होने वाले जोड़ों का दर्द कम होता है साथ ही यह अर्थराइटिस में होने वाले दर्द को भी दूर भगाता है, यदि आप आर्थराइटिस की समस्या से छुटकारा पाना चाहते हैं तो उसके लिए आप 25 से 50 मिलीलीटर भटकटैया के पत्तों के रस में काली मिर्च मिलाकर सुबह-शाम सेवन करें, ऐसा करने से आर्थराइटिस की समस्या तो दूर होगी

मौत को छोड़कर कई बीमारियों का रामबाण इलाज है यह पौधा

यह सिर में होने वाले भयानक दर्द को भी रोकता है, यदि आप सिर में होने वाले दर्द से तुरंत छुटकारा पाना चाहते हैं तो उसके लिए आप भटकटैया के फलों का रस माथे पर लेप की तरह लगाएं, ऐसा करने से दर्द में तुरंत ही राहत मिलती हैं

मौत को छोड़कर कई बीमारियों का रामबाण इलाज है यह पौधा

दमा, छाती का दर्द, बुखार, कफ आदि रोगों में कटेहरी का प्रयोग बहुत ज्यादा किया जाता है, यदि छाती में कफ जम जाए तो इस फलों का काढ़ा बनाकर 50 मिलीलीटर के रूप में 2 ग्राम भुनी हुई हींग और 2 ग्राम सेंधा नमक मिलाकर सेवन करें, ऐसा करने से कफ की समस्या दूर हो जाएगी|

मौत को छोड़कर कई बीमारियों का रामबाण इलाज है यह पौधा

यदि दांतों में दर्द हो या मसूड़ों में किस तरह की समस्या हो तो ऐसे में आप कटेहरी के बीजों को जलाकर उसका धुआं लेवे, इससे होने वाले दर्द में तुरंत ही आराम मिलता है या आप कटेरी की जड़, फल, पत्ते को मिलाकर काढ़ा बनाकर कुल्ला करें तो इससे भी दांतों में होने वाले दर्द से तुरंत राहत मिलती है|

हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी आपको कैसी लगी, क्या आप इस जानकारी से संतुष्ट हैं, क्या आपके आसपास में यह फल मिलता है तो आपके यहां इसे किस नाम से जानते हैं, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं, पोस्ट पढ़ने के लिए धन्यवाद|

 

From Around the web