एसिडिटी के लिए आयुर्वेद चिकित्सा 19 उपाय, जो बहुत कम लोगो को पता है

1) अनानास के टुकड़े पर चीनी और काली मिर्च मिलाकर खाने से एसिडिटी दूर होती है। 2) सफेद प्याज के रस में चीनी मिलाकर पीने से एसिडिटी दूर होती है। 3) सफेद प्याज को पीसी हुई चीनी और दही में मिलाकर खाया जाता है। 4) एसिडिटी को दूर करने के लिए एक चम्मच तिल का
 
एसिडिटी के लिए आयुर्वेद चिकित्सा 19 उपाय, जो बहुत कम लोगो को पता है

1) अनानास के टुकड़े पर चीनी और काली मिर्च मिलाकर खाने से एसिडिटी दूर होती है।
2) सफेद प्याज के रस में चीनी मिलाकर पीने से एसिडिटी दूर होती है।
3) सफेद प्याज को पीसी हुई चीनी और दही में मिलाकर खाया जाता है।
4) एसिडिटी को दूर करने के लिए एक चम्मच तिल का रस, एक चम्मच काले अंगूर और आधा चम्मच शहद को मिला लें।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

एसिडिटी के लिए आयुर्वेद चिकित्सा 19 उपाय, जो बहुत कम लोगो को पता है
5) इलायची, चीनी और खीरे की चटनी खाने से एसिडिटी दूर होती है।
6) कद्दू के रस में चीनी पीने से एसिडिटी को कम करने में मदद मिलती है।
7) शक्कर, चाक चीनी और छाल पाउडर का सेवन करने से मुहांसे खत्म हो जाते हैं।
8) एक नींबू के रस में आधा लीटर पानी डालें, आधा चम्मच चीनी, दोपहर का भोजन के साथ लें ।
9) रात में भोजन से आधे घंटे पहले, अम्लता फैल जाती है। इसलिए हल्का खाना खाएं।
10) चीनी पाउडर के साथ धनिया का सक्रियण अम्लता को कम करता है। यदि ठंड के बाद छाती में सूजन होती है, तो यह भी गायब हो जाती है।

एसिडिटी के लिए आयुर्वेद चिकित्सा 19 उपाय, जो बहुत कम लोगो को पता है
11) गाजर का जूस पीने से एसिडिटी दूर होती है।
12) 1 से 2 ग्राम दूध और घी में मिलाया हुआ 3-5 ग्राम काली मिर्च मिलाएं और खाएं।
13) 3 से 4 ग्राम बेकिंग सोडा को धनजीरा पाउडर या सुदर्शन चूर्ण में मिलाकर शाम को खाने से एसिडिटी मिटती है।
14) तुलसी के पत्तों को दही या मट्ठे के साथ लेने से एसिडिटी दूर होती है।
15) नींबू पानी और इमली को भूनकर खाने से एसिडिटी दूर होती है।

एसिडिटी के लिए आयुर्वेद चिकित्सा 19 उपाय, जो बहुत कम लोगो को पता है
16) धनिया और गन्ने के पाउडर को पानी के साथ लेने से एसिडिटी दूर होती है।
17) मूली और चीनी खाने से मुहांसे खत्म हो जाते हैं। क्योंकि अगर पेट ठीक होगा तो कभी नहीं होंगे ।
18) एसिडिटीं से राहत पाने के लिए सीज़निंग पाउडर को शहद के साथ लिया जाता है।
19) संतरे के रस में थोड़ा सा भुना जीरा और नारियल का रस अम्लता का एक बड़ा कारण प्रदान करता है। इस उपाय से भी एसिडिटीं  में आराम  आता है ।

From Around the web