खून की कमी, कोलेस्ट्रोल कम होना, एसिडीटी, डाइबिटीज, वजन घटना और भी है इस पत्ते के फायदे

कडी पत्ते के सेवन से चमत्कारी होने वाले फायदे. बालो का सफेद होना, खून की कमी, कोलेस्ट्रोल कम होना, एसिडीटी, डाइबिटीज, वजन घटना, बालो में रुची, लीवर की रक्षा, हृदय की रक्षा इन सभी शारीरिक बिमारी में इस कडी पत्ते के जबरदस्त फायदे मिलते है. यह कही गुणो से संपूर्ण है लोह, फास्फोरस, विटामिन्स बी2,
 
खून की कमी, कोलेस्ट्रोल कम होना, एसिडीटी, डाइबिटीज, वजन घटना और भी है इस पत्ते के फायदे

कडी पत्ते के सेवन से चमत्कारी होने वाले फायदे. बालो का सफेद होना, खून की कमी, कोलेस्ट्रोल कम होना, एसिडीटी, डाइबिटीज, वजन घटना, बालो में रुची, लीवर की रक्षा, हृदय की रक्षा इन सभी शारीरिक बिमारी में इस कडी पत्ते के जबरदस्त फायदे मिलते है. यह कही गुणो से संपूर्ण है लोह, फास्फोरस, विटामिन्स बी2, बी6, बी9, कैल्शियम इन सभी गुनो से कडी पत्ता अनमोल है.

कडी पत्ता बालो के लिये अच्छा होता है. कडी पत्ता बालो को लगाने की विधी कडी पत्ता अच्छी तरह से पीसकर पानी में डाले और वह पानी अच्छी तरह उबाल ले जब तक वह पानी हरे रंग का ना दिखे वह पानी ठंडा होने के बाद शाम को सोते समय बालो के जडो पर धीरे धीरे मसाज करे इससे बाल जड से मजबूत बनते है और सफेद होने से रोखे जाते है. इस के अलावा कडी पत्ते को अच्छी तरह से पीस कर उस का रस दही में मिलाकर बालो पर लगाने से डैड्राफ और झडने वाले बाल मुलायम बनते है.

इन्सान के शरीर में एनीमिया जैसी बिमारी तबी होती है. जब शरीर में खून की कमी हो आयरन की कमी हो इस रोग से निजाद पाने के लिये कडी पत्ता बहुत गुणी होता है. कडी पत्ता के अंदर आयरन फोलिक एसिड अधिक मात्रा में पाये जाते है. इसलिये एनीमिया जैसे रोगी एक सप्ताह सुबह खाली पेट एक खजूर पाच कडी पत्ता के पत्ते एक साथ चबाकर खाने से शरीर में आयरन का स्थर बढ जाता है. और एनीमिया जैसी खतरनाक बिमारी तुरंत कम होने लगती है.

दस्त जैसे लक्षनो में कडी पत्ता बहुत मायने रखता है दस्त से रहात दिलाने में मदत करता है. कडी पत्ता के अंदर एन्टी- इन्फ्लैमटोरी, एन्टी बैक्टिरीयल गुणो के कारण यह पेट में होने वाले गडबडी को तुरंत कम कर देता है. पितदोष को संतुलित करता है और पेट की हर समस्या को दूर करता है.

From Around the web