वास्तु शास्त्र के नियम इन पेड़-पौधों को लगाने से होता है वास्तु दोष, इन्हें घर में भूलकर भी ना लगाएं

अक्सर लोग अपने घरों में तुलसी और मनी प्लांट के पौधों रखते है क्योंकि उनका मानना है कि ये पौधे उनके लिए सौभाग्य और सुख-समृद्धि लेकर आते है लेकिन बहुत कम लोग ये बात जानते है कि इन पौधों को घर में नहीं लगाना चाहिए क्योकि ये पौधे आपके घर में नकारात्मक ऊर्जा लेकर आते
 
वास्तु शास्त्र के नियम इन पेड़-पौधों को लगाने से होता है वास्तु दोष, इन्हें घर में भूलकर भी ना लगाएं

अक्सर लोग अपने घरों में तुलसी और मनी प्लांट के पौधों रखते है क्योंकि उनका मानना है कि ये पौधे उनके लिए सौभाग्य और सुख-समृद्धि लेकर आते है लेकिन बहुत कम लोग ये बात जानते है कि इन पौधों को घर में नहीं लगाना चाहिए क्योकि ये पौधे आपके घर में नकारात्मक ऊर्जा लेकर आते है।

वास्तु शास्त्र के नियम इन पेड़-पौधों को लगाने से होता है वास्तु दोष, इन्हें घर में भूलकर भी ना लगाएं

वास्तु शास्त्र के नियमों को ध्यान में रखकर बनाया घर आपके जीवन में खुशियां और सुख-समृद्धि लेकर आता है। इसी तरह से अगर घर में लगाए गए पेड़-पौधे वास्तु के अनुकूल नहीं हो तो इनका आपके जीवन पर विपरीत प्रभाव पड़ सकता है। इसलिए घर पर पेड़-पौधे लगाने से पहले आपको कुछ वास्तु नियमों का ध्यान रखना चाहिए। आइये जानते है उन नियमों के बारे में –

इसके अलावा आपको अपने घर में कैक्टस और दूसरे कांटेदार पौधे नहीं रखने चाहिए। घर के अंदर इन पौधों का होना नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करता है और परिवार के सदस्यों की सेहत को भी प्रभावित करता है।

वास्तु शास्त्र के अनुसार लाल रंग के फूल वाले पौधे और बोन्साई पेड़ घर के अंदर नहीं रखा जाना चाहिए। हालाँकि आप इन्हें घर में खुले स्थान और बगीचे में रख सकते है।

आपको घर में इमली और मेहँदी के पेड़ लगाने से भी बचना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि इन पेड़ों में बुरी शक्तियों का वास होता है इसलिए इन पेड़ों को घर से दूर होना ही सही माना जाता है।

इसके अलावा आपको अपने घर में सूखे हुए पेड़-पौधे लगाने से बचना चाहिए। यहाँ तक कि घर में सूखे हुए फूलों का होना भी दुर्भाग्य का कारण बनता है। साथ ही आपको घर की उत्तर और पूर्व दिशा में गमले रखने से बचना चाहिए।

वास्तु शास्त्र के नियम इन पेड़-पौधों को लगाने से होता है वास्तु दोष, इन्हें घर में भूलकर भी ना लगाएं

From Around the web