पंचांगः 5 अक्टूबर, 2021

 

05 अक्टूबर 2021 को सूर्योदय के समय की ग्रह स्थिति

ग्रह स्थिति

सूर्य कन्या में चंद्र कन्या में

मंगल कन्या में

बुध कन्या में

गुरु मकर में

शुक्र वृश्चिक में

शनि मकर में

राहु वृष में

केतु वृश्चिक में

लग्नारंभ समय

तुला 06.50 बजे सेे

वृश्चिक 09.05 ब.से

धनु 11.21 बजे से

मकर 13.26 बजे से

कुंभ 15.12 बजे से

मीन 16.45 बजे सेे

मेष 18.16 बजे से

वृष 19.56 बजे से

मिथुन 21.54 बजे से

कर्क 00.07 बजे से

सिंह 02.23 बजे से

कन्या 04.35 बजे से

मंगलवार 2021 वर्ष का 278 वां दिन

दिशाशूल उत्तर ऋतु वर्षा।

विक्रम संवत् 2078 शक संवत् 1943

मास आश्विन (दक्षिण भारत में भाद्रपद) पक्ष कृष्ण तिथि चतुर्दशी 19.05 बजे को समाप्त। नक्षत्र उत्तराफाल्गुनी 01.10 बजे रात्र को समाप्त। योग शुक्ल (शुक्र) 11.34 बजे को समाप्त। करण विष्टि 08.09 बजे, शकुनि 19.05 बजेे तदनन्तर चतुष्पद 05.53 बजे प्रात: को समाप्त।

चन्द्रायु 24.0 घण्टे

रवि क्रान्ति दक्षिण 040 44Ó

सूर्य दक्षिणायन कलि अहर्गण 1871027

जूलियन दिन 2459492.5

कलियुग संवत् 5123

कल्पारंभ संवत् 1972949123

सृष्टि ग्रहारंभ संवत् 1955885123

वीरनिर्वाण संवत् 2547

हिजरी सन् 1443

महीना सफर

तारीख 27

विशेष प्राणनाथ प्रगटन महोत्सव।

दिन का चौघडिय़ा रात का चौघडिय़ा

रोग 05.53 से 07.22 बजे तक काल 05.42 से 07.13 बजे तक

उद्वेग 07.22 से 08.15 बजे तक लाभ 07.13 से 08.45 बजे तक

चर 08.15 से 10.19 बजे तक उद्वेग 08.45 से 10.16 बजे तक

लाभ 10.19 से 11.48 बजे तक शुभ 10.16 से 11.48 बजे तक

अमृत 11.48 से 01.16 बजे तक अमृत 11.48 से 01.19 बजे तक

काल 01.16 से 02.45 बजे तक चर 01.19 से 02.51 बजे तक

शुभ 02.45 से 04.13 बजे तक रोग 02.51 से 04.22 बजे तक

रोग 04.13 से 05.42 बजे तक काल 04.22 से 05.54 बजे तक 

Panchang October 5 2021

From Around the web