अदभुत, पेड़: भारत और कई देशों में ‘लड़कियों’ जैसा फल उगाने वाला पेड़ है

ये बात सच है कि दुनिया में ऐसे पेड़ भी हैं जिस पर लड़की के आकार का फल उगता है। इस पेड़ को नारीफॉन कहते हैं। हिमालय की वादियों में ये पेड़ आपको देखने के लिए मिलेंगें। बौद्ध धर्म के लोगों के लिए ये पेड़ बहुत की पवित्र है। कुछ लोग इसे मकालीफॉन का पेड़
 
अदभुत, पेड़: भारत और कई देशों में ‘लड़कियों’ जैसा फल उगाने वाला पेड़ है

ये बात सच है कि दुनिया में ऐसे पेड़ भी हैं जिस पर लड़की के आकार का फल उगता है। इस पेड़ को नारीफॉन कहते हैं। हिमालय की वादियों में ये पेड़ आपको देखने के लिए मिलेंगें। बौद्ध धर्म के लोगों के लिए ये पेड़ बहुत की पवित्र है। कुछ लोग इसे मकालीफॉन का पेड़ भी कहते हैं। इस पेड़ पर जो फल उगते हैं वो लड़कियों के आकार के होते हैं प्रकृति की इस देन को आप देखकर चमत्कार समझेंगें लेकिन ऐसा नहीं है।

इस पेड़ के बारे में पौराणिक कथा भी हैं लोगों का कहना है कि भगवान ने अपनी पत्नी की रक्षा के लिए जंगल में ऐसे पेड़ को अपनी शक्तियों से उगाया था जिससे वहां कोई उन पर बुरी नज़र ना डाल पाए और भ्रमित होकर वहीं आसपास घूमता रहे।

इस पेड़ पर 20 साल में एक बार ये फूल उगते हैं। वैसे इसे भारत के लोग नारीलथा के नाम से भी जानते हैं। भारत में हिमालय की वादियों के अलावा ये पेड़ श्रीलंका और थाईलैंड में भी पाया जाता है। थाईलैंड में इस पेड़ को नारीपोल के नाम से जाना जाता है। वहां के लोगों में और पर्यटकों में ये पेड़ काफी पॉपुलर है। हालांकि दुनियाभर में लोगों को प्रकृति के इस करिश्में के बारे में ज्यादा नहीं पता लेकिन जिन्हे इसके बारे में पता है वो इसे कुदरत का चमत्कार मानते हैं।

बॉटेनिकली अगर इस बारे में बात की जाए तो ये पेड़ ऑर्किट परिवार से है। पहले इस पेड़ पर लड़की के आकार के फूल उगते हैं और फिर जब वो फल के रूप में तैयार होते हैं तो देखने में वो लड़की के आकार के होते हैं। अब आप इस पेड़ को हकीकत में देखने के लिए यहां घूमने जा सकते हैं।

अगर आप अभी तक हिमालय की वादियों में या फिर श्रीलंका या थाईलैंड घूमने नहीं गए हैं तो इस बार आपके पास ये बहाना भी है कि आपको वहां जान है क्योंकि वहां पर लड़की उगाने वाला पेड़ होता है। दुनिया में ऐसी की विचित्र बातों के बारे में लोगों की जानने में रूची होती है। इस पेड़ के बारे में वैसे पहले ही कई बार लोग बता चुके हैं लेकिन इस पेड़ की जानकारी अभी भी बहुत कम लोगों को ही है।

From Around the web