पुराने ज़माने में गुनाहगारों को देते थे ऐसी यातनाएं जिसकी आप कल्पना भी नहीं सकते

मनुष्य का दिमाग हमेशा गुनहगारों, अपराधी, और हर उस शख्स को जो गलत समय पर गलत जगह पर होता है, को खतरनाक से खतरनाक गुनाहगारों को सज़ा देने के बारे में सोचता रहता है। हम सभी को कुछ पुराने सजा देने के अंदाज़ पता है जैसे फांसी देना, जला देना केया फिर पत्थर मारना। लेकिन
 
पुराने ज़माने में गुनाहगारों को देते थे ऐसी यातनाएं जिसकी आप कल्पना भी नहीं सकते

मनुष्य का दिमाग हमेशा गुनहगारों, अपराधी, और हर उस शख्स को जो गलत समय पर गलत जगह पर होता है, को खतरनाक से खतरनाक गुनाहगारों को सज़ा देने के बारे में सोचता रहता है। हम सभी को कुछ पुराने सजा देने के अंदाज़ पता है जैसे फांसी देना, जला देना केया फिर पत्थर मारना। लेकिन तब क्या जब वाकई आपके साथ कोई गलत करता है तो? उस समय के बारे में सोचिये जब इंसान पर उत्पीड़न और कष्ट दिए जाते थे। यह ऐसी सज़ाएं थी जो अब ख़त्म हो चुकी है लेकिन कुछ ऐसी सज़ाएं अभी भी मौजूद है जो अभी ख़त्म नहीं हुई है। हम आपको कुछ ऐसी उत्पीड़न सज़ाओं के बारे में बताते है लेकिन आप इसको घर पर न आज़माएं:

1. लकड़ी का घोड़ा/ स्पेन का गधा –  WOODEN HORSE/SPANISH DONKEY

पुराने ज़माने में गुनाहगारों को देते थे ऐसी यातनाएं जिसकी आप कल्पना भी नहीं सकते
Source:

स्पेनिश खोज और मध्यकालीन समय में किये जाने वाले उत्पीड़न में से यह सबसे खतरनाक सजा है। गुनेहगार को नग्न अवस्था में गधे जैसे उपकरण बार बैठाया जाता था जो लकड़ी का बना हुआ होता था जिसपर तेज़ कील लगी होती थी. इसके बाद उत्पीड़न देने वाला इंसान पीड़ित के पैरों पर तब तक वजन डालता था जब तक कील से पीड़ित का शरीर आधा काट नहीं जाता था।

अगले पेज पर जाने के लिए यहाँ पर क्लिक करें 

From Around the web