दुनिया के 5 सबसे छोटे और अद्भुत देश, जानकर हैरान रह जाओगे

आपने दूनिया के बड़े शेहरो के बारे में सुना होगा,परन्तु क्या आप दुनिया के सबसे छोटे देशो के बारे में जानते है,यदि नहीं तो आज हम आपको बताने वाले है दुनिया के 5 सबसे छोटे देशो के बारे में जिनके बारे में आप जानकार हैरान रह जायेगे.तो चलिए जानते है कुछ ऐसे ही देशो के
 
दुनिया के 5 सबसे छोटे और अद्भुत देश, जानकर हैरान रह जाओगे

आपने दूनिया के बड़े शेहरो के बारे में सुना होगा,परन्तु क्या आप दुनिया के सबसे छोटे देशो के बारे में जानते है,यदि नहीं तो आज हम आपको बताने वाले है दुनिया के 5 सबसे छोटे देशो के बारे में जिनके बारे में आप जानकार हैरान रह जायेगे.तो चलिए जानते है कुछ ऐसे ही देशो के बारे में.

1.वैटिकन सिटी

वैटिकन सिटी यूरोप महादीप में स्थित एक छोटा सा देश है,जिसे दुनिया का सबसे छोटा देश माना जाता है.इस देश में बहुत सी शानदार इमारते है जो लोगो का ध्यान अपनी और खींचती है.दुनिया के सबसे छोटे देश वैटिकन का एरिया कुल आधे वर्ग किलोमीटर से भी कम है,2015 में यहाँ की कुल जनसँख्या 1000 से भी कम थी.

2.मोनाको शहर

मोनाको शहर भी यूरोप महादीप में स्थित है,फ्रांस और इटली के मध्य स्थित मोनाको दुनिया का दूसरा सबसे छोटा देश है,मोंतिकारियो इसका मुख्य शहर है और इसकी राज्य भाषा फ्रांससी है.यहाँ दुनिया के किसी भी देश से ज्यादा पर्तिव्यक्ति करोडपति है.मोनाको शहर समुंद्र के किनारे बसा हुआ है और यह महज 2.02 वर्ग किलोमीटर का देश है जिसकी कुल आबादी 38,000 के करीब है.

3.नॉरू

नॉरू दुनिया का तीसरा सबसे छोटा देश माना जाता है.यह दुनिया का एक लोता ऐसा गणतंत्र देश है जिसकी कोई राजधानी नही है.दुनिया के तीसरे सबसे छोटे देश नॉरू का कुल एरिया 21.03 वर्ग किलोमीटर है,इस देश की अपनी कोई सेना नहीं है और इसकी कुल आबादी 10,000 के करीब है.

4.तुवालू

तुवालू ऑस्ट्रेलिया के बिच स्थित पोलुनाशिई दीपिए देश है,यह देश 4 दीपो से मिलकर बना है.26 वर्ग किलोमीटर में फेला तुवालू दुनिया का चौथा सबसे छोटा देश माना जाता है.तुवालू को 1978 में ब्रिटेन से आज़ादी मिली थी और इसकी कुल आबादी भी 10,000 के करीब है.

5.सीलैंड

क्या ऐसा भी कोई देश हो सकता है जिसकी कुल आबादी सिर्फ 27 हो,इंग्लैंड के पास एक ऐसा ही देश है जिसका नाम सीलैंड है.इंग्लैंड के समुंद्री तट से तक़रीबन 10 किलोमीटर की दुरी पर स्थित सीलैंड खंडहर हो चुके किलो पर टिका हुआ है.जिसे दुसरे विश्व युद्ध के दौरान ब्रिटेन ने दुसरे देशो पर नज़र रखने के लिए बनाया था.सीलैंड पर अलग-अलग देशो का कब्ज़ा रहा है.हालांकि इस देश को कभी भी अंतराष्टीय मान्यता नहीं मिली है,और यह सिर्फ 250 मीटर एरिया वाला देश है.

From Around the web