डेढ़ सौ साल पहले झारखंड में घटी इस शिवलिंग की घटना ने लोगों को हैरान कर दिया था

दुनिया में आए दिन तरह तरह की खबरें सुनने को मिलती रहती हैं जिन पर कभी कभी यकीन करना भी मुश्किल होता है। हमारे भूतकाल में ऐसी बहुत सी घटनाएं घटी हैं जो आज भी इंसान के जेहन में ताजा बनी हुई है लेकिन यह घटनाएं कैसे क्यों हुई इसके पीछे का कारण बता पाना
 
डेढ़ सौ साल पहले झारखंड में घटी इस शिवलिंग की घटना ने लोगों को हैरान कर दिया था

दुनिया में आए दिन तरह तरह की खबरें सुनने को मिलती रहती हैं जिन पर कभी कभी यकीन करना भी मुश्किल होता है। हमारे भूतकाल में ऐसी बहुत सी घटनाएं घटी हैं जो आज भी इंसान के जेहन में ताजा बनी हुई है लेकिन यह घटनाएं कैसे क्यों हुई इसके पीछे का कारण बता पाना भी मुश्किल है। ऐसे ही आज एक घटना के बारे में हम आपको बताएंगे जो करीब डेढ़ सौ साल पहले झारखंड में घटी थी।

खुदाई के दौरान मिला शिवलिंग…

डेढ़ सौ साल पहले झारखंड में घटी इस शिवलिंग की घटना ने लोगों को हैरान कर दिया था

झारखंड में घटी इस वाक्ये के बारे में जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे। आइए जानते हैं कि आखिर ऐसा क्या हुआ था जिसका खौफ आज भी लोगों के दिलों दिमाग पर बरकरार है। सबसे पहले बता दें कि उस समय देश में अंग्रेजों का शासन था। वे झारखंड में रेलवे लाइन बिछाने का काम कर रहे थे। काम करते समय जमीन की खुदाई की जा रही थी और इस दौरान मजदूरों को एक शिवलिंग मिली।

गुस्से में किया फावड़े से वार…

शिवलिंग देखते ही मजदूर चौक गए और उन्होंने काम करना बंद कर दिया। इसके बाद ब्रिटिश इंजीनियर राबर्ट हेनरी ने मजदूरों को शिवलिंग तोड़कर खुदाई करने का आदेश दिया लेकिन आदेश के बावजूद भी जब मजदूरों ने शिवलिंग को नहीं तोड़ा तो गुस्से में हेनरी ने शिवलिंग को फावड़े से तोड़ कर फेंक दिया।

और आखिरकार भगवान शिव ने दिखाया प्रकोप…

डेढ़ सौ साल पहले झारखंड में घटी इस शिवलिंग की घटना ने लोगों को हैरान कर दिया था

स्थानीय लोगों का यह भी कहना है कि उस समय उपस्थित लोगों ने इंजीनियर को समझाने का काफी प्रयास किया लेकिन वह किसी की बात सुनने को तैयार नहीं था। आखिरकार उसे जो नहीं करना चाहिए उसने वही किया और उसका परिणाम उसे अपनी जान देकर चुकानी पड़ी क्योंकि आश्चर्य की बात तो यह थी कि इस घटना के कुछ समय बाद ही इंजीनियर की मौत हो गई जबकि वहां मौजूद मशीन भी कुछ देर बाद अपने-आप बंद हो गई।

विज्ञान को ताक पर रख देने वाली इस घटना के बाद सरकार को मजबूरन उस रेलवे रूट को बदलवाना पड़ा। आगे चलकर वहां मंदिर बना दिया जिसकी आज भी आराधना की जाती है। बता दें, इस मंदिर का नाम महादेवशाल धाम है जो झारखंड के गोइलकेरा में स्थित है।  4 आसान से सवालों के जवाब देकर जीतें 400 रु– यहां क्लिक करें

जिओ Sale :- 
Jio 2 Smartphone  मोबाइल को 499 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे
JIO Mini SmartWatch को 199 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे
JioFi M2 को 349 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे

Jio Fitness Tracker को 99 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे

यह है वो 4 भारतीय खिलाडी जिनका 2019 विश्व कप में खेलना पक्का | Top 4 batsman play in world cup 2019


सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

From Around the web