निरमा वॉशिंग पाउडर की इस लड़की की दर्द नाक कहानी आप को रुला देगी

Story of nirma girl will made you cry
 
निरमा वॉशिंग पाउडर की इस लड़की की दर्द नाक कहानी आप को रुला देगी

90 के दशक के सभी बच्चों को टीवी पर देखा हर कार्टून हर कॉमिक्स याद होगा। इसके साथ आपको याद होगा निरमा का वो विज्ञापन भी जिसका गाना ‘वॉशिंग पाउडर निरमा’ हम सभी को आज भी याद है। लेकिन क्या आप जानते हैं निरमा के पैकेट पर जो लड़की बनी है वो कौन है? नहीं, तो चलिए हम बताते है निरमा गर्ल की कहानी।

निरमा वॉशिंग पाउडर की इस लड़की की दर्द नाक कहानी आप को रुला देगी
दरअसल निरमा वॉशिंग पाउडर की शुरुआत 1969 में गुजरात के करसन भाई ने की थी। निरमा के पैकेट पर जो लड़की नज़र आती है वो कोई और नहीं बल्कि करसनभाई की बेटी निरूपमा है। करसनभाई प्यार से अपनी बेटी को निरमा कहकर बुलाते थे। करसन भाई एक पल के लिए भी निरमा को अपनी आंखों से दूर नहीं जाने देते थे। लेकिन ऊपर वाले को शायद कुछ और ही मंजूर था।

निरमा वॉशिंग पाउडर की इस लड़की की दर्द नाक कहानी आप को रुला देगी
निरुपमा एक दिन कहीं जा रही थी कि उसका एक्सिडेंट हो गया। दुर्घटना में निरुपमा का निधन हो गया। करसनभाई अपनी बेटी की मौत से टूट गए। वो हमेशा चाहते थे कि उनकी बेटी बड़ी होकर नाम कमाए और पूरी दुनिया उसे जाने लेकिन ऐसा हो न सका।

निरमा वॉशिंग पाउडर की इस लड़की की दर्द नाक कहानी आप को रुला देगी
ऐसे में करसनभाई ने फैसला किया कि वो अपनी बेटी को अमर कर देंगे। उन्होंने निरमा वॉशिंग पाउडर की शुरुआत की और पैकेट पर निरमा की तस्वीर लगानी शुरू कर दी। पैकेट का रंग भले समय दर समय बदलता रहा हो लेकिन आज तक भी निरमा पाउडर का ये चित्र बदला नहीं है।

निरमा वॉशिंग पाउडर की इस लड़की की दर्द नाक कहानी आप को रुला देगी

From Around the web