ये है पीपल का पेड़ के बारे में जरूरी बात जानिए इसके बारे में

पीपल के पेड़ के बारे में तो आप सभी जानते होंगे। पीपल छाया देने के अलावा हमारे शरीर के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। पीपल के पेड में अनेक औषधीय गुण पाए जाते हैं। जो हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। पीपल का पेड़ पीलिया, रतौंधी, मलेरिया, खांसी, अस्थमा, सिर दर्द आदि
 
ये है पीपल का पेड़ के बारे में जरूरी बात जानिए इसके बारे में

पीपल के पेड़ के बारे में तो आप सभी जानते होंगे। पीपल छाया देने के अलावा हमारे शरीर के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। पीपल के पेड में अनेक औषधीय गुण पाए जाते हैं। जो हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। पीपल का पेड़ पीलिया, रतौंधी, मलेरिया, खांसी, अस्थमा, सिर दर्द आदि बीमारियों में पीपल की टहनी, लकड़ी और जड़ का प्रयोग औषधि के रूप में किया जाता है। आज की पोस्ट में हम आपको पीपल के पेड़ के बेहतरीन फायदे बताएंगे। आइए जान लेते हैं। अगर आपके आस-पास भी पीपल का पेड़ है तो इस खबर को तुरंत पढ़ें, जरूरी बात है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

पीपल के पेड़ के फायदे

ये है पीपल का पेड़ के बारे में जरूरी बात जानिए इसके बारे में

  1. सांस से जुड़ी बीमारियों में पीपल का पेड़ बहुत फायदेमंद हो सकता है। पीपल के पेड़ के अंदर की छाल को निकालकर सुखाएं। और सूखे हुए भाग को पीसकर पाउडर बना लें। इसका सेवन दवाई के रूप में करने से सांस से संबंधित परेशानियां दूर हो जाती हैं।

  2. पीपल की दातुन करने से दांत हमेशा मजबूत रहते हैं। और दांतो से संबंधित समस्याएं दूर हो जाती हैं। 5 ग्राम पीपल की छाल, कत्था और 2 ग्राम काली मिर्च को बारीक पीसकर पाउडर बना लें। और इस पाउडर से मंजन करने से दांतों से जुड़ी सभी प्रकार की समस्याएं दूर हो जाती हैं।

ये है पीपल का पेड़ के बारे में जरूरी बात जानिए इसके बारे में

  1. त्वचा से संबंधित बीमारियां जैसे दाद, खाज और खुजली की समस्या होने पर पीपल की छाल को घिसकर उसका लेप लगाएं। इससे तुरंत फायदा मिलेगा।

  2. शरीर में कोई अंदरूनी चोट लग जाए तो पीपल के पत्तों का गर्म लेप लगाएं। इससे चोट के दर्द और सूजन से राहत मिलती है। पीपल की छाल का लेप लगाने से घाव जल्दी भरता है। और जलन दूर हो जाती है।

From Around the web