पिता को ट्रैक्टर चलाने पर होता था पेट दर्द फिर बेटे ने किया ऐसा आविष्कार कि सब हो गए हैरान

ओमोरी कला के PSC मैन्स के फस्ट ईयर स्टूडेंट योगेश नायर ने यह आविष्कार किया हैं छोटी सी उम्र इस छात्र ने और भी कई आविष्कार किये हैं योगेश की माँ घरेलु हैं और पिता एक किसान हैं योगेश के घर में एक ट्रेक्टर हैं जो की खेती में काम आता हैं बतौर योगश उनके
 
पिता को ट्रैक्टर चलाने पर होता था पेट दर्द फिर बेटे ने किया ऐसा आविष्कार कि सब हो गए हैरान

ओमोरी कला के PSC मैन्स के फस्ट ईयर स्टूडेंट योगेश नायर ने यह आविष्कार किया हैं छोटी सी उम्र इस छात्र ने और भी कई आविष्कार किये हैं योगेश की माँ घरेलु हैं और पिता एक किसान हैं योगेश के घर में एक ट्रेक्टर हैं जो की खेती में काम आता हैं बतौर योगश उनके पिता को ट्रैक्टर चलाने के दौरान पेट दर्द की शिकायत होने लगी।

इसी समस्या से परिवार का गुजारा करना मुश्किल हो रहा था इसी की चिंता में योगेश ने पढ़ाई के साथ पिता का हाथ बटाने की सोची इसी दौरान उसने ऐसा आविष्कार किया जहां खेत में एक जगह बैठकर खेत की हकाई और जुताई कर सके इसके लिए उसने एक ऐसा रिमोट तैयार किया जिससे पूरे खेत में बिना किसी चालक के हकाई और जुताई हो रहीं हैं।

पिता को ट्रैक्टर चलाने पर होता था पेट दर्द फिर बेटे ने किया ऐसा आविष्कार कि सब हो गए हैरान

योगेश बताते हैं की कुछ उपकरण उन्होंने खुद बनाये जबकि कुछ सामान बाजार से खरीदा एक ओटो पैनल तैयार किया कुछ मशीने ट्रैक्टर पर लगाई जिससे सिग्नल देकर आज योगेश के पिता खेत की हताई और जुताई बिना किसी चालक के कर रहें हैं इस आविष्कार पर करीब 47 हजार रूपय का खर्चा आया योगेश के पिता ने भी इस दौरान उसका होसला बढ़ाया योगेश का सपना हैं की वह देश के आर्मी के लिए कुछ उपकरण और मशीने बनाये।

From Around the web