भारत का एक ऐसा गाँव जहाँ हर घर को काले रंग से रंगा जाता है

कोई भी घर को रंगने के लिए सिर्फ काले रंग का इस्तेमाल नहीं करता है। इतना ही नहीं, ऑइल पेंट, इमल्शन पेंट या लाइम कलर किसी भी कैटलॉग में काला नहीं है। क्योंकि इस रंग की मांग न के बराबर है। लेकिन छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में आदिवासी आबादी वाले गांवों और कस्बों में ब्लैक
 
भारत का एक ऐसा गाँव जहाँ हर घर को काले रंग से रंगा जाता है

कोई भी घर को रंगने के लिए सिर्फ काले रंग का इस्तेमाल नहीं करता है। इतना ही नहीं, ऑइल पेंट, इमल्शन पेंट या लाइम कलर किसी भी कैटलॉग में काला नहीं है। क्योंकि इस रंग की मांग न के बराबर है। लेकिन छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में आदिवासी आबादी वाले गांवों और कस्बों में ब्लैक हाउस आसानी से मिल जाते हैं. आदिवासी लोग आज भी अपने फर्श और दीवारों को काले रंग से रंगते हैं। इसके पीछे कई मान्यताएं हैं।

दिवाली से पहले हर कोई अपने घर में रंग-रोगन करता है। इस वर्ष भी जशपुर जिले के आदिवासी समुदाय के लोग परंपरा के अनुसार काला रंग चुनकर घर की रंगाई-पुताई कर रहे हैं. एक ग्रामीण घर की दीवारों को काली मिट्टी से रंगा जाता है। इसलिए कुछ ग्रामीण परावत जलाकर काला रंग तैयार करते हैं जबकि कुछ टायर जलाकर काला रंग भी बनाते हैं। गौरतलब है कि पहले काली मिट्टी आसानी से मिल जाती थी, लेकिन काली मिट्टी न मिलने के कारण लोग अब काला रंग तैयार करने के लिए दूसरे तरीकों का सहारा लेते हैं।

समाज में एकरूपता लाने के लिए एक ही रंग

अघरिया आदिवासी समुदाय के लोगों ने एकजुटता दिखाने के लिए घर को काले रंग से रंगना शुरू कर दिया। इस रंग का प्रयोग उस समय से होता आ रहा है जब आदिवासी लोग चमक-दमक से दूर रहते थे। उस समय घर की पेंटिंग के लिए केवल काली मिट्टी ही उपलब्ध थी और इसका उपयोग पेंटिंग के लिए किया जाता था। आज भी गांव में काला रंग देखकर ही पता चलता है कि यह आदिवासी घर है। काला रंग एकरूपता दर्शाता है।

काले रंग से रंगे घर में दिन में भी इतना अंधेरा रहता है कि घर के सदस्यों को ही पता होता है कि किस कमरे में क्या हुआ है। गौरतलब है कि आदिवासी लोगों के घरों में कुछ ही खिड़कियां होती हैं। छोटे रोशनदान हैं। इस प्रकार के घर में चोरी का खतरा कम होता है।

वहीं, काले रंग की एक विशेषता यह थी कि काली मिट्टी की दीवार हर मौसम में आरामदायक होती थी। इतना ही नहीं आदिवासी दीवारों पर कई कलाकृतियां भी बना रहे थे। उसके लिए दीवार को भी काले रंग से रंगा गया था।

From Around the web